/राहत :ई-वाहन पंजीयन पर रोड टैक्स माफ होगा
thehnews.com

राहत :ई-वाहन पंजीयन पर रोड टैक्स माफ होगा

दिल्ली सरकार ने इलेक्ट्रिक वाहनों पर रोड टैक्स माफ करने की अधिसूचना जारी कर दी है। परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत ने रविवार को कहा कि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने जैसा वादा किया था, उसे पूरा किया।

दिल्ली सरकार ने ई-वाहन नीति की घोषणा के बाद बैटरी चालित वाहनों पर रोडटैक्स को माफ कर दिया है। दिल्ली मोटर वाहन कराधान अधिनियम के तहत परिवहन विभाग की तरफ से 10 अक्तूबर को अधिसूचना जारी की गई है। अब दिल्ली में इलेक्ट्रिक वाहन खरीदने पर पथकर में पूरी छूट मिलेगी। वहीं ई-वाहनों पर पंजीकरण शुल्क माफी की प्रक्रिया भी प्रारंभ हो गई है। लोगों से अगले तीन दिन में सुझाव मांगे गए हैं। इसके बाद उसे भी माफ कर दिया जाएगा।

50 फीसदी ई-बसें : मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा कि दिल्ली को देश की ई-वाहनों की राजधानी बनाने की दिशा में बड़ा कदम उठाया गया है। उन्होंने कहा, साल 2024 तक नए निकलने वाले वाहनों में 25 फीसदी ई-वाहन होने चाहिए। वहीं नई खरीदी जाने वाली सार्वजनिक परिवहन की बसों में से 50 फीसदी इलेक्ट्रिक होंगी।

तैयारी : हाई स्पीड ट्रेनों में सामान्य स्लीपर डिब्बे नहीं

भारतीय रेलवेके 130 किलोमीटर प्रति घंटा और इससे ज्यादा की गति वाले कॉरिडोर पर चलने वाली ट्रेन में नए वातानुकूलित 3 एसी कोच होगे। ये मौजूदा गैर वातानुकूलित स्लीपर कोच की जगह लेंगे। नए कोच की क्षमता मौजूदा कोच से ज्यादा होगी और किराया स्लीपर और एसी कोच के बीच में रहेगा, ताकि यात्रियों पर बोझना पड़े।

रेलवे दो प्रमुख कॉरिडोर दिल्लीमुंबई और दिल्ली-कोलकाताको 130 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से ट्रेन चलाने की तैयारी कर रहा है। पर इन ट्रेन में अनारक्षित कोच नहीं होंगे लेकिन मौजूदा स्लीपर कोच को भी बदला जाएगा। उनकी जगह आरसीएफ, कपूरथला में तैयार हो रहे नए एसी-3 कोच लगाए जाएंगे। इनकी क्षमता 83 वर्थकी होगी। ये कोच सुरक्षा और संरक्षा की दृष्टि से तेज गति वाली ट्रेन के लिए उपयुक्त होंगे। रेलवे के एक अधिकारी नेकहाकिहवा की गति और मौसमजैसे कारणों को देखते हुए ऐसे नए कोच जरूरी होगे। हालांकि उन्होनस्पष्टकिया कि 110 किलोमीटर प्रति घंटेकी रफ्तार से चलने वाली ट्रेन में मौजूदा स्लीपर कोच और अनारक्षित कोच रहेंगे और इनको भी इन हाई स्पीड कॉरिडोर पर चलाया जाएगा।